भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Philosophy (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

Please click here to view the introductory pages of the dictionary
शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें।

Genetic Logic

जननिक तर्कशास्त्र
बोसांके (basanquet) के अनुसार, वह तर्कशास्त्र जो विचार को विकासवादी दृष्टिकोण से देखता है, अर्थात् उसे व्यावहारिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए विकसित अनुकूलनों का एक समुच्चय मानता है।

Genetic Method

जननिक विधि
उत्पत्ति या मूल के आधार पर वस्तुओं की व्याख्या करने की प्रणाली।

Genidentity

क्रमतादात्म्य
कार्नेप के तर्कशास्त्र में किसी वस्तु की दो निरन्तर क्षणों की अवस्थाओं के बीच तादात्म्य स्वीकार करना जबकि वे यथार्थतः दो भिन्न वस्तुएँ होती हैं, क्रमतादात्म्य कहलाता है।

Genus

जाति
अरस्तू के तर्कशास्त्र में :
1. किसी वस्तु के सारतत्त्व का वह अंश जो उससे भिन्नता रखने वाली उपजातियों की अन्य वस्तुओं से भी संबंधित है।
2. सामान्य लक्षणों से युक्त दो या दो से अधिक उपजातियों से निर्मित वस्तुओं का वर्ग।

Geometric Method

ज्यामितीय विधि
परिभाषाओं और स्वयंसिद्धियों से निष्कर्ष निकालने की वह प्रणाली जिसका ज्यामिति में अनुसरण किया जाता है और जिसे देकार्त, स्पिनोजा इत्यादि विचारकों ने दर्शन के लिए भी आदर्श माना।

Ghost Theory

प्रेत सिद्धांत
वह विश्वास कि मृत्यु के बाद भी आत्मा अदृश्य रूप में बनी रहती है और चाहने पर इस लोक के निवासियों के साथ संपर्क कर सकती है तथा उनके जीवन को प्रभावित कर सकती है।

Gnosiology

आध्यात्म विद्या
देखिए “epistemology”।

Gnosis

प्रज्ञान
मूलतः ज्ञान का समानार्थक, किन्तु प्रथम तथा द्वितीय शताब्दियों में विशिष्ट साधनों के द्वारा प्राप्त होने वाले पारमार्थिक सत्यों के ज्ञान के अर्थ में प्रयुक्त।

Gnosticism

प्रज्ञानवाद
विशेषतः ईसाई धर्म के अन्तर्गत उसके इतिहास के प्रारंभ में कुछ रहस्यवादी संप्रदायों की विचारधारा के लिए प्रयुक्त शब्द। इन संप्रदायों को बाद में चर्च ने धर्मविरूद्ध घोषित कर दिया था।

Gnothi Seauton

आत्मानं विद्धि, अपने को जानो
आत्मज्ञान के लिए प्रेरित करने वाली एक प्राचीन यूनानी सूक्ति।

Goal

ध्येय, लक्ष्य
वह जिसे प्राप्त करने के लिए कर्म किया जाता है या कर्म का अभीष्ट।

God Realization

ईश्वर-साक्षात्कार
ईश्वरार्पण बुद्धि से अपने कर्तव्य का पालन करते हुए भक्त के द्वारा ईश्वर की अनुभूति प्राप्त करना।

Good

शुभ, श्रेय
वह कर्म जो नैतिक दृष्टि से मान्य हो, नैतिकता का साध्य हो अथवा नैतिक मूल्य रखता हो।

Good Analogy

सुसाम्यानुमान
1. वह साम्यानुमान जो दृष्टान्तों एवं सामान्य विशेषताओं की अधिकतम संख्या और गुणवत्ता के ऊपर आधारित हो।
2. दो पदार्थों, व्यक्तियों या अवधारणाओं में महत्वपूर्ण समानता।

Gratuitous Hypothesis

अनुपयोगी प्राक्कल्पना
ऐसी प्राक्कल्पना जो जाति पर आधारित न होकर केवल व्यक्तियों (दृष्टान्तों) की संख्या के ऊपर आधारित होती है।

Great Man Theory

महापुरूष सिद्धांत
वह सिद्धांत जो इतिहास को समझने के लिए महापुरूषों को कुंजी मानता है या इतिहास के निर्माण में उनका महत्व मानता है।

Gross Egoistic Hedonism

स्थूल स्वार्थपरक सुखवाद
वह सिद्धांत जो अपने दैहिक सुख को चरम उद्देश्य मानता है और सुखों में गुणात्मक भेद न मानकर केवल परिमाणात्मक भेद को स्वीकार करता है।

Gross Utilitarianism

स्थूल उपयोगितावाद
बेंथम द्वारा प्रतिपादित नैतिक मापदंड का सिद्धांत, जिसके अनुसार कर्म की उपयोगिता, उसके शुभाशुभ का निर्धारक है। इसमें अधिकतम लोगों के अधिकतम (दैहिक) सुख अभीष्ट हैं, तथा सुखों में मात्र परिमाणात्मक भेद होता है।

Grounds Of Induction

आगमन के आधार
कारणता और प्रकृति की एकरूपता के नियम जिन पर आगमन आश्रित है।

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App